Rishi Panchami Vrat katha, Vidhi| ऋषिपंचमी व्रत कथा – महात्म्य

सज्जनों जाने अनजाने में प्रत्येक मनुष्य से कुछ न कुछ पाप कर्म अथवा दूषित कर्म अवश्य होते हैं। इसी प्रकार से स्त्रियों में भी एक कर्म ऐसा है जो प्रत्येक स्त्री जाने अनजाने में अवश्य करती है और इस पाप कर्म के कारण से उस स्त्री के शरीर, स्वभाव, घर, परिवार, मन तथा आत्मा आदि पर कुप्रभाव पड़ता है । आइए आज के इस वीडियो में जानते हैं कि यह दुष्प्रभाव किस तरह का होता है ? क्या पाप कर्म करने से यह दुष्प्रभाव स्त्री के ऊपर पड़ता है ? इसका निवारण क्या है ?


प्रतिदिन ज्योतिष से संबंधित नया वीडियो पाने के लिये हमारा यूट्यूब चैनल https://www.youtube.com/c/ASTRODISHA सबस्‍क्राइब करें। इसके अलावा यदि आप हमारी संस्था के सेवा कार्यों तथा प्रोडक्ट्स से संबंधित अधिक जानकारी प्राप्‍त करना चाहते हैं तो आप हमारी बेवसाइट https://www.astrodisha.com/ पर जा सकते हैं और अगर आपको कुछ पूछना है तो आप हमें help@astrodisha.com पर मेल कर सकते है।


Contact – +91-7838813444, +91-7838813555,
+91-7838813666, +91-7838813777

Whats app – +91-7838813444


Email – help@astrodisha.com
Website – https://www.astrodisha.com
Facebook – https://www.facebook.com/AstroDishaPtSunilVats/


Rishi Panchami Vrat Katha , vidhi aur mahatamya

rishi panchami ki katha, rishi panchami vrat katha, rishi panchami puja vidhi, rishi panchami story, rishi panchami story in hindi, rishi panchami vrat katha in hindi

No comment yet, add your voice below!


Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *