द्विरागमन (गौना) शुभ मुहूर्त | Auspicious Timings Dwiragaman (Gauna) Muhurat

Gaun Shubh Muhurat

द्विरागमन (गौना | Dwiragaman) मुहूर्त विचार:-

पिता के घर से दूसरी बार पति के घर जाने को द्विरागमन (Dwiragaman) कहते हैं। यदि यह शुभ मुहूर्त में किया जाए तो पिता पक्ष और पति पक्ष दोनों के लिए शुभ रहता है।

द्विरागमन (गौना | Dwiragaman) करने का शुभ मुहूर्त :-

विवाह से एक वर्ष के भीतर अथवा तीसरे या पांचवें वर्ष में द्विरागमन (Dwiragaman) होना चाहिए।

द्विरागमन (Dwiragaman) के समय सूर्य वृश्चिक, कुंभ अथवा मेष राशि में और बृहस्पति शुद्ध होना चाहिए।

द्विरागमन (Dwiragaman) के लिए शुभ वार:-

द्विरागमन (Dwiragaman) के लिए सोम, बुध, गुरु, शुक्रवार शुभ होते हैं।

द्विरागमन (Dwiragaman) के लिए शुभ लग्न :-

द्विरागमन (Dwiragaman) के लिए 2, 3, 6, 7 या 12वीं राशि के लग्न शुभ होते हैं।

द्विरागमन (Dwiragaman) के लिए शुभ नक्षत्र:-

द्विरागमन (Dwiragaman) के लिए हस्त, अश्विनी, पुष्य, अभिजीत, उत्तराफाल्गुनी, उत्तराषाढ़ा, उत्तराभाद्रपद , रोहिणी, स्वाति, पुनर्वसु, श्रवण, धनिष्ठा, शतभिषा, मूल, मृगशिरा, रेवती, चित्रा, अनुराधा नक्षत्र शुभ हैं।

Other Keywords:-
नववधू प्रवेश शुभ मुहूर्त, वधू प्रवेश करने का शुभ मुहूर्त | First entry of bride in sasural | द्विरागमन (गौना) करने का शुभ मुहूर्त | वधु गृह प्रवेश मुहूर्त | New Bride Entry Muhurat | द्विरागमन मुहूर्त, Dwiragaman muhurat, Dwiragaman ritual, Griha Pravesh Ritual, ससुराल जाने का शुभ मुहूर्त, Griha Pravesh Muhurat, vadhu pravesh muhurat, Sasural Jane ka Shubh Muhurat, January nav vadhu griha pravesh shubh muhurat, February Nav vadhu griha pravesh shubh muhurat, March nav vadhu griha pravesh shubh muhurat, April nav vadhu griha pravesh shubh muhurat, May nav vadhu griha pravesh muhurat, June nav vadhu griha pravesh muhurat, July nav vadhu griha pravesh muhurat, August nav vadhu griha pravesh muhurat, September nav vadhu griha pravesh muhurat, October nav vadhu griha pravesh, November nav vadhu griha pravesh muhurat, December nav vadhu griha pravesh muhurat